बंगाली भाषा/इतिहास

विकिपुस्तक से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
बंगाली भाषा
इतिहास वर्तमान → 

बंगाली भाषा हिन्द आर्य भाषा है जो प्राकृत के समान है। यह 11वीं से 13वीं सदी के मध्य संस्कृत भाषा से निकला था। ऐसा माना जाता है कि यह तीन भाषा समूह में अलग हो गया। जिसमें बंगाली, असमी और ओड़िया शामिल है। मुस्लिमों के भारतीय उपमहाद्वीप में आने के बाद से इसमें अरबी और फारसी शब्द प्रवेश करने लगे थे।