भारत के ऐतिहासिक स्मारक/कुतुबमीनार

विकिपुस्तक से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
Wikipedia
विकिपीडिया पर कुतुबमीनार के बारे में एक लेख है।
कुतुबमीनार

कुतुबमीनार का नामकरण गुलाम वंश के शासक कुतुबुद्दीन ऐबक के नाम पर किया गया है। यह सर्वप्रसिद्ध मीनार भारत की राजधानी दिल्ली की शोभा है।

ऐतिहासिक जानकारी[सम्पादन]

यह मीनार ७२.५ मीटर ऊंची है। मीनार का निर्माण मुस्लिम शासक कुतुबुद्दीन ऐबक ने ११९३ में शुरू करवाया लेकिन फिरोज शाह तुगलक द्वारा इसका निर्माण कार्य सन १३८६ में पूर्ण करवाया गया। कुतुबमीनार ईंट-पत्थरों से बनी विश्व की सबसे ऊंची मीनार हैं। कुतुब परिसर को युनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल में सम्मिलित किया गया है

कैसे पहुंचें[सम्पादन]

वायुमार्ग से पहुंचने के लिए इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का प्रयोग किया जा सकता है।

रेलमार्ग से पहुंचने के लिए बहुत से बड़े रेलवे स्टेशन है जैसे:- आनंद विहार रेलवे स्टेशन, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन आदि। बस से पहुंचने के लिए आनंद विहार बस स्टेशन का प्रयोग किया जा सकता है।

इसके पश्चात अगर आप मेट्रो सेवा प्रयोग में लाएंगे तो बेहतर होगा क्योंकि दिल्ली का जाम अपने आप में ही विशिष्ट पहचान रखता है। मेट्रो से पहुंचने के लिए आपको कुतुबमीनार मेट्रो स्टेशन जाना होगा यहां से आप बस(महिलाओं के लिए बस सुविधा दिल्ली में पूरी तरह से फ्री है) अथवा आटो रिक्शा द्वारा आसानी से अपने गंतव्य तक पहुंच सकते हैं।