विकिपुस्तक:सूनाका संसाधन

विकिपुस्तक से
Jump to navigation Jump to search

पुस्तकों का सूचीकरण (कैटलॉगिंग) कई तरीकों द्वारा किया जाता है ताकि उन्हें विकिपुस्तक:सूची नामावली कार्यालय (सूनाका — CCO:Card Catalog Office) पर जाकर खोजा और ब्राउज किया जा सके। यह पृष्ठ इस बारे में बताने के लिए है कि पुस्तकों का सूचीकरण इन विभिन्न सूचीकरण तरीकों (अलमारियों, वर्णक्रमानुसार सूचियों, पूर्णता की अवस्था, एवं पाठ स्तरों) द्वारा कैसे किया जाना चाहिए।

यदि आपको कोई समस्या हो, अथवा कोई सहायता चाहते हों, चौपाल पर पूछ सकते हैं।

अलमारियाँ[सम्पादन]

विकिपुस्तक पर एक ही विषय से संबंधित पुस्तकों को एक साथ उनका समूहन करके रखा जाता है। इस समूहन के लिए संसूचक जोड़ने के लिए पुस्तक के मुख्य पृष्ठ पर {{अलमारियाँ|<SHELF1>|<SHELF2>}} जोड़ें जहाँ <SHELF1> पहली अलमारी का नाम हो और <SHELF2> दूसरी वैकल्पिक अलमारी का नाम हो। वैसे तो एक पुस्तक पर इस तरह कई अलमारियों के नाम जोड़े जा सकते हैं, कोशिश यही रहनी चाहिए कि सटीक अलमारी के नाम ही जोड़े जाएँ और दो से अधिक न जोड़े जाएँ। उदाहरण के लिए यदि पुस्तक हिंदी साहित्य का इतिहास है तो उसपर अलमारी:हिंदी साहित्य का इतिहास जोड़ें, अलमारी:हिंदी साहित्य नहीं, क्योंकि हिंदी साहित्य का इतिहास एक अधिक विशिष्ट विषय है, हिंदी साहित्य की तुलना में; पुस्तक इसके बाद भी अलमारी:हिंदी साहित्य में पायी जा सकती है क्योंकि अलमारियाँ अपने से ठीक नीचे की अलमारियों की पुस्तकें भी दिखाती है। एक से अधिक अलमारियों में सूचीकरण (क्रॉस-कैटगराइजेशन) केवल तभी करें जब पुस्तक को वास्तव में दो नितांत भिन्न अलमारियों में खोजे जा सकने की वैध संभावना हो; केवल अपने द्वारा लिखित पुस्तक को ज्यादा-से-ज्यादा जगह दिखाने के लिए उसे कई श्रेणियों में न जोड़ें।

अक्षर क्रम अनुसार सूचीकरण[सम्पादन]

विकिपुस्तक पर वर्णक्रमानुसार (अक्षरों के क्रम में) सूचीकरण किया जाता है। इसे सुनिश्चित करने के लिए पुस्तक के मुख्य पृष्ठ पर {{वर्णक्रमानुसार|<CHARACTER>}} जोड़ें, जहाँ <CHARACTER> पुस्तक के नाम का पहला अक्षर हो।

पूर्णता की अवस्था[सम्पादन]

चूँकि, विकिपुस्तक एक सतत निर्माणाधीन प्रकल्प है, विद्यार्थी ऐसी पुस्तकें पढ़ना चाहेंगे जो पूर्ण हों अथवा पूरी होने वाली हों जबकि लेखकों और संपादकों कि रुचि नई शुरू पुस्तकों या आंशिक निर्मित पुस्तकों में हो सकती। अतः पुस्तक की पूर्णता की क्या स्थिति है इसे सूचित करने के लिए पुस्तक के मुख्य पृष्ठ पर {{स्थिति|<PROGRESS>}} जोड़ें जहाँ <PROGRESS> आगे दिए कोड में से कुछ हो: 0%, 25%, 50%, 75%, अथवा 100% जिससे पूर्णता की अवस्था अनुसार पुस्तक श्रेणीबद्ध हो सके। इस सुविधा का दुरुपयोग न करें; अपनी लिखी पुस्तक को पॉपुलर बनाने के लिए उस पर पूर्णता का झूठा दावा न करें।

पाठ स्तर[सम्पादन]

पाठ्य पुस्तकें अलग-अलग स्तर के विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग हो सकती हैं, भले ही विषय एक ही हो। छोटे बच्चों के लिए बिलकुल बेसिक जानकारी और आसान प्रस्तुतीकरण के साथ भी उसी विषय पर पुस्तक लिखी जा सकती और स्नातक अथवा इससे ऊपर के विस्यार्थियों के लिए भी पुस्तक लिखी जा सकती जो उन्हें और भी अधिक जानकारी उपलब्ध कराये। अतः आप पुस्तक किस स्तर के विद्यार्थी के लिए लिख रहे हैं यह बताने के लिए पुस्तक के मुख्य पृष्ठ पर {{पाठ स्तर|<LEVEL>}} जोड़ें; जहाँ <LEVEL>आगे दिए कोड: pre-reader, beginner, intermediate, advanced, अथवा professional में से एक हो। यदि आप कोड हिंदी में लिखना चाहते हों तो कृपया प्रारंभिक, आरंभिक, माध्यमिक, उन्नत, अथवा प्रोन्नत या विशेषज्ञ में से कोई एक चुनें।

स्तरों की व्याख्या हेतु विकिपुस्तक:पाठ स्तर अवश्य देख लें।

एक उदाहरण[सम्पादन]

उदाहरण के लिए विशिष्ट आपेक्षिकता को ले लें। यह पुस्तक सही और सटीक ढंग से सूचीकरण का एक उदाहरण प्रस्तुत करती है। इस पुस्तक के मुख्य पृष्ठ पर नीचे लिखा हुआ कोड शामिल किया गया है:

यह सारा कुछ इसलिए, कि कोई विकिपुस्तक में कैसे भी ब्राउज करे, अगर उसकी खोज इससे संबंधित है तो उसे यह विशिष्ट आपेक्षिकता पुस्तक अवश्य मिल जाए।

इससे विद्यार्थियों को पुस्तकें खोजने में सुविधा होती है और पुस्तक की पहुँच बढ़ती है, साथ ही साथी विकिबुकियन भी आसानी से आपके साथ जुड़ सकते अगर आप नई पुस्तक बना रहे। अतः सटीक सूचीकरण के इस कार्य में आपके द्वारा व्यतीत समय सुखद परिणाम देता है। नई पुस्तक बनाते समय इस महत्वपूर्ण कार्य की उपेक्षा न करें!

यह भी देखें[सम्पादन]