संयुक्त राष्ट्र संघ और वैश्विक संघर्ष/अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय

विकिपुस्तक से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (International justice)

  • यह संयुक्त राष्ट्र संघ का मुख्य न्यायिक अंग है।
  • इसकी स्थापना 1945 में हुई।
  • इसका मुख्यालय - हेग (नीदरलैंड) में स्थित है।
  • महासभा द्वारा 15 न्यायधीशों की नियुक्ति 9 वर्ष की अवधि के लिए की जाती है।
  • यह देशों के बीच के क़ानूनी विवादों को निपटाता है।
  • यह क़ानूनी मुद्दों पर सलाहकारी राय प्रदान करता है।


अंतर्राष्ट्रीय राजनीति में वैधानिक विवादों के समाधान के लिए अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय की स्थापना की गई है। अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का निर्णय परामर्श माना जाता है, परन्तु इसके द्वारा दिए गये निर्णय को बाध्यकारी रूप से लागू करने की शक्ति सुरक्षा परिषद् के पास है । अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के द्वारा राज्यों के बीच उप्तन्न विवादों को सुलझाया जाता है, जैसे – सीमा विवाद, जल विवाद इत्यादि ।

संरचना (Structure)[सम्पादन]

न्यायालय की आधिकारिक भाषा अंग्रेजी है। किसी भी देश के एक से अधिक सदस्य एक साथ न्यायाधीश नहीं हो सकते। अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में 15 न्यायाधीश होते हैं जिनका कार्यकाल 9 वर्षों का होता है ।