संयुक्त राष्ट्र संघ और वैश्विक संघर्ष/आर्थिक एवं सामाजिक परिषद्

विकिपुस्तक से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

आर्थिक एवं सामाजिक परिषद्(Economic and Social Council)

आर्थिक एवं सामाजिक परिषद् में 54 सदस्य होते हैं,जिसमें 18 सदस्य 3 वर्षों के लिए निर्वाचित होते हैं। इसकी बैठक साल में दो बार होती हैं।

  • यह वैश्विक स्तर पर आर्थिक एवं सामाजिक मामलों के लिए एक प्रमुख(अंग)निकाय है।
  • यह विभिन्न संस्थाओं व राष्ट्रों के बीच, आर्थिक एवं सामाजिक सम्बन्धी सहयोग के लिए उत्तरदायी है।

यह संयुक्त राज्य और उसकी विशेषज्ञ एजेंसियों, जैसे – अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO), खाद्य एवं श्रमिक संघटन (FAO), यूनेस्को (UNESCO),विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के कार्यों का समन्वयन करती है ‌।

कार्य (Work)[सम्पादन]

  1. विकासशील देशों में आर्थिक गतिविधियों में संवर्द्धन करना ।
  2. विकास और मानवीय आवश्यकताओं की सहायता-प्राप्त परियोजनाओं का प्रबंधन करना ।
  3. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के लाभों का विस्तार करना ।
  4. बेहतर आवास, परिवार नियोजन तथा अपराध-निस्तारण के क्षेत्र में विश्व सहयोग को बहाल करना ।

आर्थिक एवं सामाजिक परिषद् के अधीन अनेक आयोगों की स्थापना की गई है जिसमें सहस्राब्दी विकास लक्ष्य (Millennium Development Goals – MDGs)को प्राप्त करने के लिए प्रयत्न करना प्रमुख है ।