हिंदी भाषा और संप्रेषण/रिपोर्ट लेखन, ज्ञापन

विकिपुस्तक से
Jump to navigation Jump to search

व्यावसायिक संप्रेषण में रिपोर्ट ौ्र ज्ञापन लेखन एक महत्वपूर्ण कार्य है।

ज्ञापन लेखन[सम्पादन]

ज्ञापन ेक छोटा दस्तावेज होता है जिसके सहारे व्यावसायिक प्रतिष्ठान में आंतरिक रूप से सूचनाएं संप्रेषित की जाती है। ये संक्षिप्त होते हैं और सरलता से समझे जाने लायक होते हैं। इनमें काम की बात सीधे तौर पर कही जाती है।

ये पत्र से कम औपचारिक होते हैं लेकिन इनमें भी व्यवसायिक स्वरूप बनाना जरूरी होता है। इसका मुख्य उद्देस्य प्रतिष्ठान के भीतर समस्याओं की पहचान करना तथा उसका समाधान उपलब्ध कराना होता है। कभी-कभी ज्ञापन के जरिए तथ्यात्मक सूचनाएं भी प्राप्त की जाती हैं। ये व्यस्त पाठकों के लिए लिखे जाते हैं। इसलिए इसका स्वरूप इस तरह बनाया जाता है कि वे जरूरी सूचनाएं आसानी से और तुरंत देख सकें। व्यावसायिक ज्ञापन लिखते समय तीन तरह के पाठकों का ध्यान रखा जाता है।

  1. केवल मुख्य बिंदु देखने वाले।
  2. पूरे ज्ञापन को सरसरी तौर पर देखकर मुख्य बिंदु समझने वाले।

$ पूरा ज्ञापन पढ़कर उसकी सूचनाएं विस्तार से समझने वाले। इनके ज्ञापन पढ़ने के उद्देश्य भिन्न होते हैं। ज्ञापन के कुछ पाठक नीति तय करने तथा महत्वपूर्ण निर्णय लेने वाले हो सकते हैं। ज्ञापन की सूचनाएं उनके इस कार्य के लिए जरूरी होती हैं। कुछ पाठक ज्ञापन इसलिए देख सकते हैं जिससे की वे निर्णयों और नीतियों को समझ सकें तथा उसे लागू कर सकें। कुछ पाठक आपके व्यावसायिकता की पहचान के लिए भी ज्ञापन पढ़ सकते हैं।