हिंदी व्याकरण/काल

विकिपुस्तक से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

काल जब किसी शब्द से किसी समय या दिन के बारे में पता चलता है तो उसे काल कहते हैं। यह तीन प्रकार के होते हैं।

प्रकार[सम्पादन]

भूत काल[सम्पादन]

जब किसी शब्द से किसी बीते हुए समय के बारे में पता चलता है तो वह भूत काल कहलाता है। इसमें था, थे आदि शब्द का उपयोग होता है।

  1. मैंने तो यह कार्य कल ही कर लिया था

वर्तमान काल[सम्पादन]

जब किसी शब्द से वर्तमान काल के बारे में पता चलता है, तो उसे वर्तमान काल कहते हैं। इसके लिए मुख्यतः चल रहा है, हो रहा है, हो रही है, चल रही है आदि शब्द उपयोग होता है। यह काम अभी चल रहा है।

  1. में अभी अपना कार्य कर रहा हूँ। कुछ ही समय में हो जाएगा।

भविष्य काल[सम्पादन]

जब किसी शब्द में किसी कार्य को बाद में करने का बोध हो तो उसे भविष्य काल कहते हैं। इसमें कोई कार्य हुए नहीं रहता और न ही शुरू हुए रहता है।

उदाहरण
  1. में कल अपना पूरा कार्य कर लूँगा