कबड्डी/नियम

विकिपुस्तक से
Jump to navigation Jump to search
कबड्डी
 ← परिचय नियम खेलने का तरीका → 

खेल में[सम्पादन]

प्रतियोगिता में[सम्पादन]

खिलाड़ियों की संख्या[सम्पादन]

इसमें कुल 12 खिलाड़ी होते हैं, जिसमें से सात खिलाड़ी एक समय पर खेलते रहते हैं और अन्य पाँच खिलाड़ी आराम करते हैं। यदि सात खिलाड़ियों में से किसी को चोट लग जाये या खेलने में असमर्थ हो तो उन पाँच में से कोई भी खिलाड़ी खेल में उसके स्थान पर आ जाता है।

समय[सम्पादन]

प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग को बीस-बीस मिनट का समय दिया जाता है और महिलाओं और पचास किलो से कम वजनी पुरुषों के लिए यह 15 मिनट का होता है। इसके बीच भी पाँच मिनट का समय आराम करने के लिए दिया जाता है। जैसे ही पहले पक्ष को मौका मिलता है, उसके ठीक बाद पाँच मिनट के आराम के बाद दूसरे पक्ष को मौका मिलता है।

बराबरी होने पर[सम्पादन]

इस खेल में जीत अंकों के आधार पर होती है, यदि दोनों पक्षों ने अपनी बारी पूरी कर ली तो उसमें जिसने भी अधिक अंक लेने में सफल हुआ हो, उसे विजेता मान लिया जाता है, लेकिन कभी कभी दोनों को समान अंक मिल जाते हैं, उस स्थिति में बराबरी होने पर एक और बार मैच होता है, जिसमें जिसने भी पहले अंक पाने में कामयाबी हासिल कर ली, उसे ही विजेता मान लिया जाता है।

इसमें थोड़ा नियम भी है कि यदि बराबरी हो जाये तो उसके ठीक बाद ही पाँच मिनट वाला मैच शुरू होना चाहिए और इसमें वही खिलाड़ी होने चाहिए जो पिछले मैच में खेल रहे थे। इसके बाद दोनों पक्षों को बराबर पाँच पाँच मिनट का समय दिया जाता है। और यह मैच भी सामान्य मैच की तरह ही होता है, जिसमें अधिक अंक पाने वाला जीत जाता है। लेकिन इस अतिरिक्त मैच में भी कई बार लोगों को समान अंक ही मिल जाते हैं। इस कारण नियम में ऐसा रखा गया है कि जो भी अतिरिक्त समय वाले मैच में पहले अंक प्राप्त करेगा, वही विजय कहलाएगा। हालांकि दूसरे बार में भी बराबर अंक बहुत ही कम बार ही मिलते हैं।