सदस्य:SM7/प्रयोगपृष्ठ

Wikibooks से
Jump to navigation Jump to search

नीति सूची:

निर्भीक बनें[सम्पादन]

यह नीति निर्माण en:Wikibooks:BOLD पर आधारित है।

निर्भीक बनें...[सम्पादन]

विकिबुकियनों को प्रोत्साहित किया जाता है कि निर्भीक बनें और बदलाव करने, सामग्री जोड़ने अथवा हटाने, जहाँ कहीं समुदाय की स्वीकृति आवश्यक लगे या जहाँ भी निर्णय लेना स्पष्ट रूप से निर्विवाद न प्रतीत हो वहाँ नई चर्चाएँ शुरू करने, तथा विकिपुस्तक को एक बेहतर स्थान बनाने में अपने विवेक का सर्वोत्तम उपयोग करें। यदि आपको किसी पुस्तक अथवा खंड में तथ्यात्मक ग़लती दिखे, वर्तनी, व्याकरण अथवा फार्मेटिंग में साधारण त्रुटि दिखे कृपया सुधार करें। यदि आपको कुछ ऐसा लगे जिससे विकिपुस्तक को बेहतर बनाने में मदद मिल सके, बदलाव करें! सुधार करके चीजें बेहतर बनाने के लिए आपको किसी से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है।

...किंतु लापरवाह न बनें[सम्पादन]

विकिपुस्तक पर कोई भी संपादन कर सकता है, और अगर आपको लगता है कि आप इस प्रकल्प को बेहतर बना सकते हैं, यह प्रयास करने हेतु आपका बहुत स्वागत है, परंतु लापरवाह भी न बनें। अगर आपके द्वारा किया जाने वाला संपादन कोई भारी बदलाव लाता है, बहुधा बेहतर यही है कि पहले चर्चा शुरू करें और समुदाय की सहमति प्राप्त करें। ऐसे बड़े बदलावों में सामग्री में बड़ा बदलाव, ऐसे साँचों और संबंधित मॉड्यूल में बदलाव जिनसे बहुत से पन्ने प्रभावित हों, नीतियों संबंधी बदलाव इत्यादि कुछ आसानी से पहचाने जा सकने वाले योगदान क्षेत्र हैं जहाँ आपकी थोड़ी भी असावधानी बड़े नकारात्मक परिणाम उत्पन्न कर सकती है। यहाँ तक कि बेहतरीन नीयत और विवेक के सर्वोत्तम प्रयोग के बावज़ूद आपके बदलाव के नकारात्मक परिणाम हो सकते हैं। ऐसी दशा में सतर्क रहना भी आवश्यक है। जिन बदलावों को किया ही जाना उचित है उन्हें करने में अवश्य निर्भीक रहें किंतु ग़लती होने पर उसे स्वीकार करने में भी निर्भीक बनें और उन ग़लतियों को स्वयं सुधारने में भी आगे बढ़ें।

यह दिशा निर्देश[सम्पादन]

विकिबुकियनों से आवश्यक रूप से निर्भीक होने की अपेक्षा नहीं की जाती, अपितु उन्हें निर्भीक बनने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है; उनसे यह भी वांछित है कि उनके निर्भीक और विवेकानुसार किये गए कार्य उनके लिए किसी तरह की अनावश्यक आलोचना का कारण न बनें। अन्य साथी विकिबुकियनों को भी सलाह दी जाती है कि अच्छी नीयत मानकर, निर्भीकता पूर्वक किये गए कार्यों को, लापरवाही से किये गए कार्य न घोषित करें, इसके स्थान पर सौम्यता पूर्वक उन त्रुटियों को इंगित करें जो किसी के द्वारा निर्भीकता से बदलाव करने के दौरान हुई हैं।

निर्णय लेना[सम्पादन]

यह नीति निर्माण, en:Wikibooks:Decision making और en:Wikibooks:Decision making/Unstable पर आधारित है।

विकिबुकियन लोग हमेशा किसी मुद्दे पर एकमत हों यह संभव नहीं भी हो सकता। ये मुद्दे साधारण भी हो सकते हैं जिनसे कोई एक पृष्ठ प्रभावित हो रहा हो और सामग्री, भाषा शैली और रंगरूप इत्यादि का निर्धारण करना हो और इसके विपरीत कुछ मुद्दे अधिक प्रभावक्षेत्र वाले हो सकते हैं जिनसे कई पृष्ठों के प्रभावित होने की संभावना हो, सदस्य अधिकारों से संबंधित हों अथवा विकिपुस्तक की नीतियों से संबंधित हों। साधारण मुद्दे संबंधित पृष्ठ के चर्चा पृष्ठ पर चर्चा द्वारा निपटाये जाने चाहिएँ जबकि असाधारण मुद्दे संबंधित चर्चा पृष्ठ पर, विषय-विशेष के लिए नियत चर्चा पृष्ठ पर अथवा कुछ विशेष परिस्थितियों में आम चर्चा के स्थल (जैसे कि चौपाल) पर चर्चा द्वारा सुलझाये जाने चाहियें और किसी निर्णय तक पहुँचना चाहिए।

यहाँ ऐसी ही चर्चाओं द्वारा निर्णय लेने की प्रक्रिया का विवरण है। निर्णय की प्रक्रिया दो तरह के उपकरण प्रदान करती है विकिबुकियन लोग चर्चा द्वारा आम सहमति तक पहुँचने का प्रयास करें और समझौता करने की कोशिस करें।

निर्णय लेना[सम्पादन]

विकिपुस्तक पर निर्भीक होकर बदलाव करने की परंपरा है जिसके ज़रिये आपसी सहयोग और सहमति से पाठ्यपुस्तकें निर्मित की जा सकें। निर्णय लेने की प्रक्रिया में दो मूलभूत बातें हमेशा ध्यान में रखने योग्य हैं:

  1. विकिपुस्तक पाठ्य पुस्तकें निर्मित करने हेतु एक ऑनलाइन प्रकल्प है: - जिसमें यह अंतर्भूत है कि यहाँ पाठ्य पुस्तकें लिखने आयें हैं और इसके इतर लेखन यहाँ स्वीकार्य नहीं। यहाँ निबंध, राय, मौलिक रचनाएँ, विषयों पर शोधपरक अथवा मूल्यांकन परक विमर्श, तथ्यों का विश्लेषण अथवा संश्लेषण करके मौलिक शोध इत्यादि नहीं लिखा जा सकता और न ही जानकारी को गैर-क्रमबद्ध रूप से एकत्र मात्र कर देना उचित है। अतः सदैव ध्यातव्य है कि निर्णय लेने की चर्चा प्रक्रिया में आपकी राय से पाठ्य पुस्तक निर्माण के मूल उद्देश्य में क्या सकारात्मक सहायता मिलती है।
  2. हम यहाँ आपसी सहकार्य से पाठ्यपुस्तकें निर्मित करने के उद्देश्य से उपस्थित हैं: - हमारा उद्देश्य आपसी सहकार्य से पुस्तक निर्माण है और विकिपुस्तक यहाँ कार्य और योगदान करने वाले सदस्यों का समुदाय भी है। इस मूल उद्देश्य से भटकाव अथवा इसमें बाधा उत्पन्न करना, समुदाय के निर्णय में विश्वास न रखते हुए अपनी बात मनवाने हेतु कार्य बाधित करना अस्वीकार्य व्यवहार है। अतः निर्णय प्रक्रिया में लेते समय भी आपसे यह अपेक्षा की जाती है कि सभ्यता के साथ और तार्किक रूप से अपनी राय रखें, साथ ही आपकी राय समुदाय के स्वस्थ माहौल को बनाए रखने या और बेहतर बनाने में सहायक है अथवा नहीं।

विकिपुस्तक पर किताबें लिखते समय यह बिलकुल स्वाभाविक है कि लेखक अपनी लिखी सामग्री के प्रति सुरक्षात्मक भावना रखें। अतः किसी की लिखे सामग्री को हटाना अथवा आपकी लिखित सामग्री में आगे किये जाने वाले बदलाव वापस (रिवर्ट) करना कोई सकारात्मक व्यवहार नहीं और न ही रिवर्ट आपके लिखित अवतरण को रखे जाने में कोई सहायक उपाय है। यदि आपको लगता है कि किसी अन्य द्वारा लिखित सामग्री पूर्वग्रहयुक्त अथवा संधिग्ध है, उसमें सुधार करके उसे बेहतर बनाएँ न कि उसे हटा मात्र देना विकल्प है।

उच्च प्रभाव वाले निर्णय[सम्पादन]

इनमें सदस्य समूह व्यवस्थापन, नीति निर्माण और बदलाव और कुछ अन्य कार्य आते हैं, जैसे:

  • किसी सदस्य को प्रबंधक दायित्व देने का निर्णय।
  • किसी सदस्य को प्रशासक दायित्व देने का निर्णय।
  • बॉट संचालन अधिकार देना।
  • आयातक अधिकार देना।
  • सदस्य समूहों के अधिकार और दायित्व क्षेत्र में बदलाव
  • प्रबंधकों/प्रशासकों को कुछ आवश्यक स्थानीय निर्णयों हेतु विवेकाधिकार प्रदान करना।
  • नीतियों का निर्माण, उनमें बदलाव पर निर्णय लेना।