योग/योग कैसे करें?

विकिपुस्तक से
Jump to navigation Jump to search

← योग क्या है? | सामान्य योग →


      योग कैसे करें?

योग क्या है? यह समझ लेने पर, योग कैसे करैं? यह समझना आसान हो जाता है! अधिकाँशत: वर्तमान में योग को, योगा कहकर, जीविकोपार्जन व कारोवारी तौर-तरीकों से धन अर्जित करने का व्यवसाय बनाया लिया गया है| योगा को आधुनिक बनाने के लिए, इसमें ध्वनि, प्रकाश व व्यायाम यन्त्रों आदि साधनों को शामिल किया गया है| जिससे इसने काफी रोचक व आकर्षक स्वरूप ले लिया है तो दूसरी ओर योग व योग करने के तरीकों को लेकर, जनसामान्य में अनेक भ्राँतियाँ भी पनप गयीं हैं| पुनश्चय: योग के अभ्यासियों हेतु अतिआवश्यक है कि वह किसी अनुभवी शिक्षक के निर्देशन में योग सीखना प्रारम्भ करैं! तैयारियाँ– अ. जीवन शैली– १. देश-काल-परिस्थिति के अनुरूप व अनुकूल, खान-पान, रहन-सहन की नियमित दिनचर्या, २. प्रकृति से निकटतम सम्पर्क-सम्बन्ध ३. स्वयँ,परिवार,समाज के लोगों,देश-राष्ट्र,विश्व व प्रकृति के प्रति जिम्मेदारी व जबावदेहीपूर्ण सम्पर्क-सम्बंधों का निर्वहन| व. शारीरिक व्यायाम/आसन/प्राणायाम/ध्यान– १. सुवह/शाम किसी भी समय शरीर की प्रत्येक कोशिका को सक्रिय करने हेतु कर्मेन्द्रियों का व्यायाम| २. रीड़ की हड्डी में लोच के लिए व्यायाम व अासन| ३. स्वसनतन्त्र सुदृढ करने के लिए आसन व प्राणायाम ४. पाचनतन्त्र की मजबूती हेतु, ५. मलतन्त्र हेतु व्यायाम, आसन, मुद्रा, व प्राणायाम, ६. मन-बुद्धि की शुद्धि व संस्कार परिवर्तन हेतु सूक्ष्म योग– मौन,ध्यान व चिन्तन-मनन-मन्थन|

तरीका[सम्पादन]

किसी भी योग को करने के लिए पहले एक अच्छे वातावरण का होना आवश्यक है। जहाँ किसी भी प्रकार का शोर न होता हो। यह मुख्य रूप से सुबह करने से उपयुक्त होती है।